गुरुवार, 2 दिसंबर 2010

क्लिक ----- क्लिक




घुमक्कड़ी करते हुए कुछ तस्वीरे उतारी है .....नजर फेरियेगा ऐसी उम्मीद है ......डोट कॉम के भी कई प्रकार मार्केट में आ चुके है... सांप , बिच्छु के बाद अब बारी केकड़े की है ....स्वर्णिम मध्य प्रदेश में अब कई तरह के ग्रुप बन्ने लगे है ..... शिव राज मामा अपना प्रदेश की भावना जगा रहे है ....... ग्रुप तस्वीर पर मामा का प्रभाव लगता दिख रहा है...."शनि देव " का तो क्या कहना .... ग्लोबल हो गए है..... जिधर देखता हूँ उधर तू ही तू है... या तो " साईं " या "शनि " देव.... संजय टेलर का भी क्या कहना ॥ अपना प्रचार कर रहे है और पोस्टर चिपकाना मना कर रखा है .....प्रेस की इससे बड़ी आज़ादी और क्या हो सकती है ..... आज़ाद प्रेस नाम से पेपर ............

6 टिप्‍पणियां:

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

रोचक चित्रावली।

arvind ने कहा…

very interesting.

mark rai ने कहा…

very nice photography...

meetu ने कहा…

athato ghumakkad jigyasha....... poore patrakar lagte ho...........

Ankur jain ने कहा…

naye lekh ke liye aapko mere blog par aamantran hai...kripya comments ke sath hazir hon...

prashant kr jha ने कहा…

bahut badhiya .... shabad ki jagah chitr bol raha hai..